BPSC 63 Final Exam Result 2019 || NABARD Manager Grade A, B Pre Exam Result 2019 ||
HSSC Clerk Exam Date/ Admit Card 2019 || Delhi HC Judicial Service Admit Card 2019 || BSF Head Constable (RO/ RM) Admit Card 2019 ||
South Central Railway Recruitment 2019 || India Post GDS Recruitment 2019 || UPSC Various Posts Online Form 2019 ||
Indian Army 10+2 TES 43 Recruitment 2020 || UPNHM Various Post Online Form 2019 || NTA UGC NET December Online Form 2019 ||

साप्ताहिक करेंट अफेयर्स || 29 जुलाई से 03 अगस्त 2019


राज्यसभा ने राष्ट्रीय आयुर्विज्ञान आयोग विधेयक-2019 को मंजूरी दी

राज्‍यसभा से 01 अगस्त 2019 को राष्ट्रीय आयुर्विज्ञान आयोग विधेयक-2019 को मंजूरी मिल गयी है. स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने राज्यसभा में इस विधेयक को पेश किया. इसमें चिकित्सा क्षेत्र एवं चिकित्सा शिक्षा क्षेत्र के नियमन हेतु भारतीय चिकित्सा परिषद की जगह एनएमसी (नेशनल मेडिकल कमीशन) के गठन का प्रस्ताव है. इस विधेयक पर लाए गए विपक्ष के संशोधनों को ध्वनिमत से जबकि दो संशोधन प्रस्तावों को क्रमश: 61 के मुकाबले 106 मतों तथा दूसरे को 51 के मुकाबले 104 मतों से खारिज कर दिया.

लोकसभा ने 29 जुलाई 2019 को ‘राष्ट्रीय आयुर्विज्ञान आयोग विधेयक-2019’ को मंजूरी दे दी थी. केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री हर्षवर्धन ने कहा कि यह कहना सही नहीं है कि राष्ट्रीय आयुर्विज्ञान आयोग (एनएमसी) विधेयक संघीय स्वरूप के खिलाफ है.

*  सुप्रीम कोर्ट में जजों की संख्या में वृद्धि, कैबिनेट ने दी मंजूरी

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने सुप्रीम कोर्ट में मुकदमों के बढ़ते बोझ को देखते हुए कोर्ट में न्यायाधीशों की संख्या में बढ़ोतरी को मंजूरी दे दी है. सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में जजों की संख्या 10 प्रतिशत बढ़ाने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी हैं.

भारत के प्रधान न्यायाधीश (सीजेआई) रंजन गोगोई ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर सुप्रीम कोर्ट में जजों की संख्या बढ़ाने की मांग की थी. सीजेआई रंजन गोगोई ने हाल ही में कहा था कि जजों की कमी के कारण कानून के सवालों से जुड़े कई महत्वपूर्ण मामलों में फैसला लेने के लिए आवश्यक संवैधानिक पीठों का गठन नहीं किया जा रहा है.

राज्यसभा में पास हुआ मोटर वाहन (संशोधन) विधेयक-2019

राज्यसभा में 31 जुलाई 2019 को मोटर वाहन (संशोधन) विधेयक-2019 पास हो गया है. यह विधेयक पहले ही 23 जुलाई को लोकसभा में पास हो चुका है. सड़क हादसों को रोकने हेतु नए संशोधित बिल में कई नए प्रावधान किए गए हैं.

इस बिल में ट्रैफिक नियम तोड़ने पर जुर्माने को और ज्यादा कड़ा किया गया है. नए बिल के तहत नियमों का उल्लंघन करने वालों को जेल भी भेजा सकता है. इस बिल में शराब पी कर वाहनों चलाने वालों पर कड़ी सजा का प्रावधान रखे गए हैं.

*  रवीश कुमार को मिला 2019 का ‘रेमन मैग्सेसे’ पुरस्कार

वरिष्ठ पत्रकार रवीश कुमार को 2019 का प्रतिष्ठित ‘रेमन मैग्सेसे’ सम्मान हेतु नामित किया गया है. यह सम्मान एशिया में साहसिक एवं परिवर्तनकारी नेतृत्व के लिए दिया जाता है. रवीश कुमार को यह सम्मान “बेआवाजों की आवाज’ बनने के लिए तथा हिंदी टीवी पत्रकारिता में उनके योगदान को देखते हुए दिया गया है.

रवीश कुमार हिन्दी न्यूज़ चैनल एनडीटीवी इंडिया के सबसे प्रमुख चेहरा हैं. रवीश कुमार के अतिरिक्त 2019 का मैग्सेसे अवॉर्ड म्यांमार के को स्वे विन, थाईलैंड के अंगखाना नीलापाइजित, फ़िलीपीन्स के रेमुन्डो पुजांते तथा दक्षिण कोरिया के किम जोंग-की को भी मिला है.

राष्ट्रपति ने ‘तीन तलाक’ विधेयक को दी मंजूरी, अब अपराध करने वालों को मिलेगी कड़ी सजा

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने तीन तलाक विधेयक ((Triple Talaq bill) को मंजूरी दे दी है. इस विधेयक पर राष्‍ट्रपति के हस्‍ताक्षर करने के साथ ही मुस्लिम महिला (विवाह अधिकार संरक्षण) विधेयक अब कानून बन गया है. इस मंजूरी के साथ ही ‘तीन तलाक’ कानून अस्तित्व में आ गया है.

यह कानून देश में 19 सितंबर 2018 से लागू माना जाएगा. संसद के दोनों सदनों में ‘तीन तलाक’ बिल पहले ही पास हो चुका है. तीन तलाक बिल को ‘सेलेक्ट कमेटी’ के पास भेजने का प्रस्ताव राज्यसभा में वोटिंग के बाद गिर गया था. वोटिंग के दौरान बिल का विरोध करने वाली कई पार्टियां राज्यसभा से वॉकआउट कर गई थीं.

गैरकानूनी गतिविधियाँ (रोकथाम) संशोधन विधेयक, 2019 राज्य सभा में पारित

गैरकानूनी गतिविधियाँ (रोकथाम) संशोधन विधेयक, 2019 (UAPA Bill) राज्यसभा द्वारा भी पारित कर दिया गया है. सदन में विधेयक पर बोलते हुए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि आतंकवाद से लड़ने वाली एजेंसियों को चार कदम आगे बढ़कर काम करना होगा तभी आतंकवाद खत्म होगा और इन प्रस्तावित संशोधनों का उद्देश्य आतंकी अपराधों की द्रुत गति से जांच और अभियोजन की सुविधा प्रदान करना है.

UAPA विधेयक में विभिन्न प्रस्ताव रखे गये हैं जिनमें संशोधनों का उद्देश्य आतंकी अपराध होने पर उनकी तुरंत जांच और अभियोजन की सुविधा प्रदान करना तथा आतंकी गतिविधियों में शामिल व्यक्ति को आतंकवादी घोषित करने का प्रावधान करना है.

पृथ्वी शॉ डोपिंग मामले में फंसे, BCCI ने 8 महीने के लिए किया सस्पेंड

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने हाल ही में भारतीय क्रिकेट टीम के बल्लेबाज पृथ्वी शॉ को निलंबित कर दिया है. बीसीसीआई ने उन्हें डोपिंग रोधी नियम के उल्लंघन के चलते निलंबित किया है. बीसीसीआई ने पृथ्वी शॉ को आठ महीने के लिए निलंबित किया है.

पृथ्वी शॉ ने बीसीसीआई के डोपिंग रोधी परीक्षण कार्यक्रम के तहत 22 फरवरी 2019 को इंदौर में सैयद मुश्ताक अली ट्राफी के दौरान टेस्ट कराया था. परीक्षण के बाद उनके नमूने में टरबुटैलाइन पाया गया. टरबुटैलाइन वाडा की प्रतिबंधित पदार्थों की सूची में शामिल है. यह पदार्थ आमतौर पर खांसी की दवाई में पाया जाता है.

Cafe Coffee Day के मालिक वीजी सिद्धार्थ का शव बरामद, चल रहा था सर्च ऑपरेशन

Cafe Coffee Day के मालिक वीजी सिद्धार्थ का शव 31 जुलाई 2019 को नेत्रावती नदी के किनारे मिल गया है. पुलिस प्रशासन द्वारा उनके लापता होने के बाद से ही उन्हें खोजने के लिए युद्ध स्तर पर अभियान चलाया गया था.

कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री (सीएम) एसएम कृष्णा के दामाद और कैफे कॉफी डे के संस्थापक वीजी सिद्धार्थ 29 जुलाई 2019 को संदिग्ध परिस्थितियों में लापता हो गए थे. बताया जा रहा है कि वीजी सिद्धार्थ मंगलुरु में नेत्रवती नदी के पास से लापता हो गए थे.

त्रिपुरा से 7वीं आर्थिक गणना के क्षेत्र कार्य की शुरुआत

केंद्र सरकार द्वारा 29 जुलाई 2019 को सातवीं आर्थिक जनगणना त्रिपुरा राज्य से आरंभ की गई है. इसके बाद यह कार्य पुद्दुचेरी में किया जाएगा. इसे अगस्त एवं सितम्बर में अन्य राज्यों में भी आरंभ किया जायेगा.

इस जनगणना के लिए आंकड़े जुटाने, उनके प्रमाणीकरण, रिपोर्ट तैयार करने और इनके प्रसार के लिए विकसित मोबाइल एप्लीकेशन पर आंकड़े एकत्र करने हेतु सीएससी द्वारा इस कार्य में लगाए जाने वाले गणनाकारों और पर्यवेक्षकों को प्रशिक्षित किया गया है.

*विश्वेश्वर हेगड़े बने कर्नाटक विधानसभा के नए स्पीकर

कर्नाटक में हाल ही में नई सरकार आने के बाद नए स्पीकर (अध्यक्ष) का चुनाव कर लिया गया है. कर्नाटक विधानसभा से स्पीकर के तौर पर केआर रमेश कुमार ने इस्तीफा दे दिया था. केआर रमेश कुमार को इस्तीफा देने के बाद विश्वेश्वर हेगड़े कगेरी को नया विधानसभा अध्यक्ष चुना गया है.

विश्वेश्वर हेगड़े कागेरी ने 30 जुलाई 2019 को अपना नामांकन दाखिल किया था. इस दौरान मुख्‍यमंत्री बीएस येदियुरप्‍पा भी उपस्थित रहे थे. वे अध्यक्ष पद के लिए अपना नामांकन पत्र दाखिल करने वाले एकमात्र व्यक्ति थे.

© Copyright 2018-2019 at https://sarkariresultts.in
For advertising in this website contact us support@sarkariresultts.in


Created By sarkariresultts.in