UPSC IAS / IFS Civil Services Pre Exam Result 2019 || RBI Junior Engineer JE Result 2019 ||
UPSC AC Admit Card 2019 || BSF Constable (Tradesman) Phase II Exam Date Announced || CGPSC Mains Exam Admit Card 2019 ||
RAC Scientist / Engineer Recruitment 2019 || West Bengal Police Sub Inspector Online Form 2019 || Bangalore Army Rally Soldier GD Online Form 2019 ||
Delhi University UG/PG Admission Form 2019 || JEE Advanced Admission Form 2019 || Bihar ITI Online Application Form 2019 ||

हिन्दी करेंट अफ़ेयर्स: 02 जुलाई 2019


पाकिस्तान ने 261 भारतीय कैदियों की सूची सौंपी, इसमे मछुआरे भी शामिल

पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय द्वारा जारी एक बयान के अनुसार, इन भारतीय कैदियों में 209 मछुआरे और 52 अन्य शामिल हैं. बयान में कहा गया है कि यह कदम पाकिस्तान और भारत के बीच दूतावास स्तरीय समझौते के तहत उठाया गया है. इसी समझौते के तहत पाकिस्तान और भारत ने एक-दूसरे को कैदियों की लिस्ट दी है. दोनों देश संबंधों में तनाव के बावजूद कैदियों की सूची साझा करने की परंपरा का पालन करते हैं.

पाकिस्तान द्वारा जारी लिस्ट में मछुआरों की संख्या इसलिए ज्यादा है क्योंकि वह अनजाने में भारतीय सीमा पार करके पाकिस्तान समुद्री सीमा में मछलियां पकड़ने चले जाते हैं. जबकि भारत में पाकिस्तानी संदिग्ध ज्यादा गिरफ्तार किए जाते हैं. पाकिस्तान और भारत दोनों ही अक्सर मछुआरों को पकड़र लेते हैं क्योंकि अरब सागर में समुद्र का कोई स्पष्ट सीमा नहीं है.

RBI के डिप्टी गवर्नर बने एनएस विश्वनाथन, दूसरी बार संभाली पद की जिम्मेदारी

कार्मिक मंत्रालय की ओर से 01 जुलाई 2019 को जारी आदेश के मुताबिक, कैबिनेट की नियुक्ति समिति ने एनएस विश्वनाथन की एक साल के लिए और डिप्टी गवर्नर पद पर दोबारा नियुक्ति को मंजूरी दे दी है. आदेश के अनुसार, एनएस विश्वनाथन की नियुक्ति चार जुलाई से प्रभावी होगी. उनका मौजूदा कार्यकाल तीन जुलाई को पूरा हो रहा है. विश्वनाथन के अतिरिक्त इस समय बी पी कानूनगो और एम के जैन केंद्रीय बैंक के डिप्टी गवर्नर हैं.

एनएस विश्वनाथन इससे पहले भी 4 जुलाई 2016 को तीन वर्षों की अवधि के लिए आरबीआई डिप्टी गवर्नर के रूप में नियुक्त किया गया था. विश्वनाथन पंजाब नेशनल बैंक के निदेशक भी रह चुके हैं. उन्होंने आईएफसीआई लिमिटेड में मुख्य महाप्रबंधक के रूप में भी काम किया है.

आज लग रहा है सूर्य ग्रहण, जानें क्या होगा असर

यह भारतीय समय के मुताबिक 02 जुलाई रात 10.25 पर आरम्भ होकर 03 जुलाई को प्रातः 03.20 बजे समाप्त होगा. इस ग्रहण की कुल समय करीब 04 घंटे 55 मिनट की रहने वाली है. यह ग्रहण हिंदू पंचाग के मुताबिक मिथुन राशि और आर्द्रा नक्षत्र में लगने वाला है. हालांकि यह पूर्ण सूर्यग्रहण बताया जा रहा है लेकिन इसे भारत में लोग नहीं देख सकेंगे. यह सूर्य ग्रहण दक्षिण प्रशांत महासागर से शुरू होगा और दक्षिणी अमेरिका के कुछ हिस्सों में भी इसका प्रभाव होगा.

इस बार की ग्रहण पूर्ण सूर्यग्रहण है. यह ग्रहण लगभग चिली, अर्जेंटीना, पैसिफिक और दक्षिण अमेरिका, और ब्राज़ील में दृश्य होगा. भारत तथा पडोसी देशों में इस सूर्यग्रहण के दर्शन नहीं होंगे. सूर्य के विशेष रूप से प्रभावित होने के कारण से इसका असर हर राशि पर होगा. सूर्य ग्रहण का असर हर राशि पर करीब 15 दिनों तक बना रहेगा.

लोकसभा ने केंद्रीय शैक्षणिक संस्था विधेयक को मंजूरी दी

इस विधेयक में केंद्रीय शिक्षण संस्थानों में विभागों के स्थान पर पूरे संस्थान को इकाई मानकर आरक्षण की व्यवस्था का प्रावधान है. सदन में मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने इस विधेयक पर हुई चर्चा का जवाब देते हुए कहा कि इससे यह पता चलता है की मोदी सरकार को कतार में खड़े अंतिम व्यक्ति की भी चिंता है.

केंद्र सरकार ने पहले ही मौजूदा शैक्षणिक वर्ष से योग्य छात्रों के लिए 25 प्रतिशत सीट बढ़ाकर 10 प्रतिशत ईडब्ल्यूएस कोटा लागू करने का निर्णय ले लिया था. हालांकि, यह पहली बार है जब केंद्र ईडब्ल्यूएस उम्मीदवारों के लिए संकाय भर्ती में 10 प्रतिशत आरक्षित करने का निर्णय लिया है.

© Copyright 2018-2019 at http://sarkariresultts.in
For advertising in this website contact us support@sarkariresultts.in


Created By sarkariresultts.in